19.8 C
Gujarat
Friday, November 25, 2022
- Advertisement -

CATEGORY

Aarti

संकटा माता आरती – Sankata Mata Aarti in Hindi

।।आरती।। जय जय संकटा भवानी,करहूं आरती तेरी ।शरण पड़ी हूँ तेरी माता,अरज सुनहूं अब मेरी ॥जय जय संकटा भवानी..॥ नहिं कोउ तुम समान जग दाता,सुर-नर-मुनि सब...

धर्मराज आरती धर्मराज कर सिद्ध काज – Dharmraj Ki Aarti Dharmraj Kar Siddh Kaaj in Hindi

।।आरती।। धर्मराज कर सिद्ध काज,प्रभु मैं शरणागत हूँ तेरी ।पड़ी नाव मझदार भंवर में,पार करो, न करो देरी ॥॥ धर्मराज कर सिद्ध काज..॥ धर्मलोक के तुम...

बाबा गोरखनाथ जी की आरती – Baba Goraknath Ji ki Aarti in Hindi

।।आरती।। जय गोरख देवा,जय गोरख देवा ।कर कृपा मम ऊपर,नित्य करूँ सेवा ॥ शीश जटा अति सुंदर,भाल चन्द्र सोहे ।कानन कुंडल झलकत,निरखत मन मोहे ॥ गल सेली...

श्री गणेश शेंदुर लाल चढ़ायो आरती – Shri Ganesh Shendur Laal Chadhayo Aarti in Hindi

।।आरती।। शेंदुर लाल चढ़ायो अच्छा गजमुखको ।दोंदिल लाल बिराजे सुत गौरिहरको ।हाथ लिए गुडलद्दु सांई सुरवरको ।महिमा कहे न जाय लागत हूं पादको ॥जय देव...

श्री शाकुम्भरी देवी जी की आरती – Shri Shakumbhari Devi Ki Aarti in Hindi

।।आरती।। हरि ओम श्री शाकुम्भरी अंबा जी की आरती क़ीजोएसी अद्वभुत रूप हृदय धर लीजोशताक्षी दयालू की आरती किजो तुम परिपूर्ण आदि भवानी माँ,सब घट तुम...

श्री भैरव देव जी आरती – Shri Bhairav Ji Aarti in Hindi

।।आरती।। जय भैरव देवा, प्रभु जय भैरव देवा ।जय काली और गौर देवी कृत सेवा ॥॥ जय भैरव देवा…॥ तुम्ही पाप उद्धारक दुःख सिन्धु तारक ।भक्तो...

श्री झूलेलाल ॐ जय दूलह देवा आरती – Shri Jhulelal Om Jai Doolah Deva Aarti in Hindi

चेटी चंड जैसे त्यौहारों तथा सिंधी समाज के अन्य कार्यक्रमों में सबसे ज्यादा गाई जाने वाली आरती। भगवान झूलेलाल के प्रत्येक मंदिर में यह...

माँ अन्नपूर्णा की आरती – Maa Annapurna Aarti in Hindi

।।आरती।। बारम्बार प्रणाम,मैया बारम्बार प्रणाम । जो नहीं ध्यावे तुम्हें अम्बिके,कहां उसे विश्राम ।अन्नपूर्णा देवी नाम तिहारो,लेत होत सब काम ॥ बारम्बार प्रणाम,मैया बारम्बार प्रणाम । प्रलय युगान्तर...

जय हो जय जय है गौरी नंदन आरती – Jai Ho Jai Jai He Gauri Nandan Aarti in Hindi

।।आरती।। जय हो जय जय है गौरी नंदनदेवा गणेशा गजाननचरणों को तेरे हम पखारतेहो देवा आरती तेरी हम उतारते शुभ कार्यो में सबसे पहलेतेरा पूजन करतेविघ्न...

श्री गौरीनंदन की आरती – Shri Gouri Nandan Ki Aarti in Hindi

।।आरती।। ओम जय गौरी नन्दन, प्रभु जय गौरी नंदनगणपति विघ्न निकंदन, मंगल नि:स्पन्दनओम जय गौरी नन्दन प्रभु जय गौरी नंदन ऋषि सिद्धियाँ जिनके, नित ही चवर...

Latest news

- Advertisement -